Whatsapp Shayari Hindi

  • वो कहने लगी नकाब में भी पहचान लेते हो…
  •  हजारों के बीच… मेंने मुस्करा के कहा तेरी आँखों से ही शुरू हुआ था

  •  “इश्क” हज़ारों के बीच…
  • सुनो ! तुम कर लो नजरंदाज अपने हिसाब से…
  • हम तो मोहब्बत बेहिसाब ही करेंगे…..

  • मरने के लिए वजह बहोत सारी हैं…जीने के लिए सिर्फ ” तू “….!!

  • कौन कहता है क़ि चाँद तारे तोड़ लाना ज़रूरी है…..
  • दिल को छू जाए प्यार से दो लफ्ज़, वही काफ़ी है…!!

  • देख पगली👸👸…मुझे यूँ 😢😢 ‎What‬’s App😢😢 😂😂‪
  • Instagram‬😂😂 ‪hike‬ और ‪‎Facebook‬ पर मत 😂तलाश किया करो…
  • हम तो हमेशा 👩तुम्हारे ❤दिल में On Line रहते हैं….👉💔

  • कुछ तो बात होगी उस पगली में 😍 जो मेरा दिल 👉💜 उसपे आ गया था 😌 वरना में तो इतना सेल्फिश हु 😜👉🏻की अपने जीने की भी दुआ नही करता..😏

  • मैनें तो सिर्फ उसका दिल चोरी किया था लेकिन,अब तो वो पगली मेरा सरनेम चोरी करने की प्लानिंग में है !!

  • आज‬ ☝ ‪दरगाह में‬ 🕌 ‪मन्नत‬ 😍 का ‪‎धागा नहीं‬, 😌 ‪अपना दिल‬ 👦❤ ‪‎बाँध‬ ☝ के ‪आया‬ 👦 हूँ ‪तेरे लिए‬ ।। 😘👩

  • सुन पगले 👦 ‪‎स्टाईल‬ 😎 तो में 👩 ‪सिर्फ_शोक‬ ☝ के लिए करती हूँ, 😌 वरना ‪ज़माने‬ 👫 के लिए तो मेरी ‪‎नशीली_आँखो‬ 👀 के ‪‎इशारे‬ ☝ ही काफी है ।। 😏

  • 👉‪तेरे‬ 👧सिवा कौन ‎समा‬💏 सकता है ‎मेरे‬ ❤दिल में,…….‪रूह‬ 🙇भी गिरवी👍 रख दी है मैंने 👨👈‎तेरी‬ 👧चाहत में !!💐

  • उनकी चाल ही काफी थी इस दिल के होश उड़ाने के लिए, …अब तो हद हो गई जब से वो पाँव में पायल पहनने लगे…

  • मोहब्बत किससे और कब हो जाये अदांजा नहीं होता. ये वो घर है, जिसका दरवाजा नहीं होता.

  • धड़कनों को भी रास्ता दे दीजिये हुजूर,आप तो पूरे दिल पर कब्जा किये बैठे है

  • कोई मुक़दमा ही कर दो हमारे सनम पर,कम से कम हर पेशी पर दीदार तो हो जायेगा


  • मेरी ज़िन्दगी के “तालिबान” हो तुम…बेमक़सद तबाही मचा रखी है

  • एक तो सुकुन और एक तुम,कहाँ रहते हो आजकल मिलते ही नही

  • मैंने तो देखा था बस एक नजर के खातिर,क्या खबर थी की रग रग में समां जाओगे तुम

  • इतनी मनमानीयां भी अच्छी नही होती,तुम सिर्फ अपने ही नहीं मेरे भी हो

  • तेरे साथ भी तेरा था… तेरे बिन भी तेरा ही हूँ…

  • कल ही तो तौबा की मैंने शराब से.. कम्बख्त मौसम आज फिर बेईमान हो गया।

  • जो मैं रूठ जाऊँ तो तुम मना लेना,कुछ न कहना बस सीने से लगा लेना।

  • सिर्फ तूने ही कभी मुझको अपना न समझा,
  • जमाना तो आज भी मुझे तेरा दीवाना कहता है!

Popular posts from this blog

Roj Sochta Hoon Kii Bhul Jaun Tujhe

Zindagi KI TALASH MAIN HUM

Nic collection of heart bit shayri